जेतली ने किया और सुधारों का वादा

0
143

हांगकांग: वित्त मंत्री अरुण जेतली ने आज कहा कि प्रतिकूल वैश्विक हालात के बावजूद भारत की आर्थिक वृद्धि में सुधार होने की उम्मीद है क्योंकि सरकार कई सुधार कार्यक्रमों को लगातार आगे बढ़ा रही है। चिंताजनक वैश्विक आर्थिक परिदृश्य में भी भारत के पास आगे बढऩे की क्षमता होने की बात पर जोर देते हुए जेतली ने कहा कि वित्तीय घाटा कम हो रहा है और महंगाई काफी हद तक नियंत्रण में है।

वित्त मंत्री ने यहां वैश्विक निवेशकों को अपने संबोधन में कहा, “सरकार के कई सुधार कार्यक्रम जारी रहने के संदर्भ में मुझे आगे तक का रास्ता दिखाई देता है। आर्थिक सुधार सतत चलते रहने वाली प्रक्रिया होगी और इसमें कोई पूर्णविराम वाली बात नहीं होती।” उन्होंने कहा कि एक महत्वपूर्ण बदलाव जो हुआ है वह यह है कि सुधार आगे की दिशा में सतत रूप से बढ़ रहे हैं और राज्यों को भी यह अहसास हो गया है कि विकास की इस गाथा में उनकी अहम भूमिका है।

जेतली ने कहा कि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) सर्वाधिक महत्वपूर्ण कराधान सुधारों में से एक है और सरकार ने रक्षा उत्पादन सहित कई क्षेत्रों को भी खोल दिया है। उन्होंने कहा, “दिवालियापन कानून (बैंकरप्टसी लॉ) संसद में पेश करने के लिए तैयार है, अनुबंधों का प्रस्ताव, सार्वजनिक ठेकों का आवंटन और सार्वजनिक अधिप्राप्ति के लिए कानूनों पर काम जारी है।” विदेशी निवेशकों को आश्वस्त करते हुए उन्होंने कहा कि कर संबंधी मुद्दों को निपटाना सरकार के लिए “सर्वोच्च प्राथमिकता” है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

6 + 1 =