दिमागी रूप से बीमार बेटी को इंसान दिलाने में पिता नाकायाब तो माँ ने उठाया अपनी बिटिया को इन्साफ दिलाने का बीड़ा!!

0
9

ब्यूरोचीफ, प्रदीप तिवारी (गोंडा):- थाना धानेपुर में चल रहे मनमानी कार्यशैली के चर्चे आज कल मीडिया में जोरों पर है।मामला लाली पोखरा मुज़ेहना चौराहा धानेपुर का है दिमागी रूप से बीमार बेटी के पिता के मुताबिक़ 13/11/2018 को उनकी बीमार बेटी को क्षेत्र की एक महिला ने बहला फुसला कर किसी युवक के साथ भेजने की कामयाब षड्यंत्र रचती है एक दो दिन की तलाश के बाद पिता द्वारा थाने पर षड्यंत्रकारी महिला को नामित कर थानाध्यक्ष श्री अतुल चतुर्वेदी को प्रार्थना पत्र दे कर कार्यवाही के लिए निवेदन करते हैं किन्तु इतने गम्भीर अपराध पर भी होशियारी दिखाते हुए पिता से दूसरी तहरीर ले कर गुमशूदगी की प्राथमिकी दर्ज की जाती है जिसकी भनक लगते ही षड्यंत्रकारी महिला मानसिक रूप से विक्षिप्त लड़की को उसके घर भिजवा देती है उसके बाद पिता लड़की के घर पहुंचने की सूचना देने के साथ जो लोग इस प्रकरण में शामिल थे उन पर कार्यवाही करने की गुजारिश करते है जहां उन्हें जबाब दिया जाता है की आपकी लड़की घर पहुँच गयी है अब आप लोग चुपचाप घर बैठिये पुलिस अपना काम कर रही है उसके बाद पिता दर्जनों बार थाने के चक्कर काट कर निराश हो गए किन्तु एक माँ ही अपनी बिटिया का दर्द बेहतर समझ सकती है लड़की की माँ ने अपराधियों को सजा दिलावाने का प्रण करते हुए जिले के पुलिस अधीक्षक के दरबार पहुंच कर पूरी घटना और थाना धानेपुर में चल रहे कानून ब्यवस्था से अवगत कराया है अब देखने की बात ये है की पुलिस के आलाधिकारी थाना धानेपुर में तैनात SO श्री अतुल चतुर्वेदी के कुशल नेतृत्व और रसूखदारी का क्या इनाम देते है।
नवागत पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा कार्यभार सम्भालते ही रसूखदारों को एल्टीमेटम दिया जा चुका है उसके बावजूद इस थाने की चर्चा विगत कई दिनों जोरों पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

− 3 = 1