शनि अमावस्या पर बनेंगे धन मिलने के खास योग

0
21

18 नवंबर शनिवार को पड़ने वाली अमावस्या अपने आप में ही खास योग का निर्माण करती है। इस दिन कुछ उपाय कर लिए जाएं तो संसार की कोई ताकत आपको अमीर बनने से रोक नहीं सकती। धन संबंधित किसी भी समस्या का हल करने के लिए यह दिन बहुत कारगार है। इनमें से कोई भी उपाय अपनाकर आप अपना अमीर बनने का सपना पूरा कर सकते हैं।

शनि यंत्र- इसे ताम्रपत्र पर निर्मित करके विधिपूर्वक प्राण-प्रतिष्ठा करके नित्य पूजन करें। इसे आप लॉकेट में भी धारण कर सकते हैं।

लोहे का छल्ला : काले घोड़े की नाल से बना छल्ला धारण करने से भी शनि की अशुभता में न्यूनता आती है। आम तौर पर शनि के वक्रत्व काल को अत्यधिक अशुभ परिणामदायक बताया जाता है जबकि व्यवहार रूप में पाया यह गया है कि वक्री होने पर भी शनि के प्रभावों का शुभत्व और अधिक बढ़ जाता है। इस अवधि में जातक वही फल प्राप्त करता है जिसका वह अधिकारी है क्योंकि शनि न्यायाधीश हैं। शनि एक निष्पक्ष न्यायकर्ता ग्रह हैं।

शनि रत्न : शनि रत्न नीलम तथा उपरत्न नीली धारण करने से भी शनि की अशुभता कम हो सकती है परन्तु कुंडली के उचित विशेषण के पश्चात ही इसे धारण करें।

शनि कवच : सात मुखी रुद्राक्ष व शनि यंत्र तथा उपरत्न नीली के संयुक्त मेल से बने कवच को धारण कर सकते हैं। इस कवच को धारण करने से शनि की अशुभता में न्यूनता आती है।

शनि मंत्र
एकाक्षरी मंत्र- 
ॐ शं शनैश्चराय नम:।

तांत्रिक बीज मंत्र- ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:।

वैदिक मंत्र- ॐ शन्नो देवीरमिष्टय आपो भवन्तु पीतयेशंयोरभि सृवन्तु न:।