Market capitalization के लिहाज से दुनिया का 8वां बड़ा बाजार बना भारत

0
14

नई दिल्लीः भारतीय शेयर बाजार में आई जबरदस्त तेजी का दौर मार्केट कैपिटलाइजेशन के हिसाब से दुनिया की टॉप 10 देशों की रैंकिंग में लगातार बड़े बदलाव कर रहा है। इंडियन स्टॉक मार्कीट इस साल अब तक अपने मार्केट कैपिटलाइजेशन में आई 49 पर्सेंट की तेज उछाल के साथ टॉप 10 लिस्ट में कनाडा को पीछे छोड़ते हुए डॉलर टर्म में पहली बार 8वें नंबर पर आ गया है।

ब्लूमबर्ग के डेटा के मुताबिक बुधवार को इंडिया का मार्केट कैपिटलाइजेशन 2.28 लाख करोड़ डॉलर जबकि कनाडा का मार्केट कैप 2.21 लाख करोड़ डॉलर रहा।

इस साल 46 पर्सेंट बढ़ा मार्कीट कैपिटलाइजेशन 
इस साल अब तक इंडिया का मार्कीट कैपिटलाइजेशन 46 पर्सेंट बढ़ा है। इस हिसाब से टॉप 10 मार्केट कैप वाले देशों में सबसे तेज उछाल इंडिया में ही आई है। इस दौरान कनाडा के मार्केट कैपिटलाइजेशन में 12.4 पर्सेंट की बढ़ोतरी हुई है।

इन 3 वजहों से हुई बढ़ोतरी
इंडिया के मार्केट कैपिटलाइजेशन में तीन वजहों से बढ़ोतरी हुई है। पहली वजह, इसका बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स रुपी टर्म में 24 पर्सेंट चढ़ना है। दूसरी, इस साल लोकल करंसी यानी रुपये में डॉलर के मुकाबले 12 पर्सेंट की मजबूती आई है। लोकल करंसी में आई मजबूती डॉलर के हिसाब से ज्यादा पड़ता है।

बड़े इमर्जिंग मार्केट्स में रुपये में डॉलर के मुकाबले चौथी सबसे बड़ी ऊंची उछाल आई है। तीसरी वजह, आईपीओ मार्केट में बढ़ी गहमागहमी का भी मार्केट कैपिटलाइजेशन बढ़ाने में बड़ा हाथ रहा है। इस साल अब तक 82 इंडियन कंपनियों ने आईपीओ के जरिए 71,687 करोड़ रुपये ($11.2 अरब) से ज्यादा रकम जुटार्इ। इनके चलते मार्केट फ्लोट में $160 अरब की बढ़ोतरी हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

+ 31 = 38